30 प्रतिशत सस्ता हुआ इंटरनेशनल टूरिज्म, लोग अब जार्जिया, टर्की, मास्को जाने लगे

अहमदाबाद / चीन सहित विश्व के अनेक देशों में कोरोना वायरस का भय फैला हुआ है, जिसके चलते उद्योग-व्यवसाय के साथ पर्यटन उद्योग भी प्रभावित हुआ है। इसके तहत इंटरनेशनल टूरिज्म भी 30 प्रतिशत सस्ता हो गया है। समर सीजन में सिंगापोर, बैंकॉक, जापान, चीन, दक्षिण कोरिया सहित अन्य इंटरनेशनल पर्यटन स्थलों पर घूमने के लिए जाने वाले भारतीय पर्यटक कोरोना इफेक्ट के चलते इन स्थलों की यात्रा रद्द कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर जार्जिया, टर्की, मॉस्को सहित अन्य देशों की यात्रा करना पर्यटक पसंद कर रहे है।
 


15 अप्रैल से शुरू होता है सीजन
शहर के टूर ऑपरेटर मनीष शर्मा ने बताया कि अहमदाबाद समेत देश भर से समर सीजन में 15 अप्रैले से 15 जून तक बड़ी संख्या में लोग इंटरनेशनल टूरिस्ट स्थलों में घूमने जाते हैं। इस साल चीन में फैले कोरोना वायरस के कारण लोग चीन के अलावा जापान, दक्षिण कोरिया, हांगकांग, मकाऊ, पताया, मलेशिया, सिंगापोर, बैंकाक आदि स्थानों की यात्राएं रद्द कर लोग अब कोराेनामुक्त देशों की ओर रुख करने लगे हैं। इसमें जार्जिया,अजरबैजान, मास्को, सेंटपिट्सबर्ग, श्रीलंका, दुबई समेत अन्य देशों के लिए टिकट बुकिंग करवा रहे हैं।
 


भारतीय एयरलाइंस ने रिफंड दिया
चीन समेत विश्व के अनेक देशों में कोरोना वायरस की स्थिति गंभीर होने के कारण काफी संख्या में पर्यटकों ने मलेशिया, बैंकाॅक, सिंगापोर की यात्रा रद्द कर दी है। इन हालात में अनेक लोगों की राशि एयरलाइंस के पास फंस गई है। भारतीय एयरलाइंस ने ऐसे यात्रियों के टिकट रद्द होने पर उन्हें रिफंड दे दिया है। किंतु इंटरनेशनल एयरलाइंस ने इस मामले में अपने हाथ खड़े कर दिए हैं। शहर के बोपल में रहने वाले आनंद ठक्कर ने बताया कि थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में आयोजित वर्ल्ड प्रेस कांफ्रेंस के लिए उन्होंने एयर एशिया एयरलाइंस की फ्लाइट में अहमदाबाद से टिकट बुक कराए थे। कोरोना वायरस के कारण हेल्थ आर्गेनाइजेशन ने ग्लोबल इमरजेंसी घोषित कर दी। इस पर उन्होंने बुक टिकट का रिफंड मांगा, तो एयरलाइंस ने अपने हाथ खड़े कर दिए।
 


डोमेस्टिक में पूर्वोत्तर की मांग
अनेक पर्यटकों ने इंटरनेशनल प्रवास रद्द कर डोमेस्टिक टूर पर निकल रहे हैं। इसमें इस बार पूर्वोत्तर राज्यों का पर्यटन बढ़ रहा है। इसमें हिमाचल प्रदेश, गंगटोक, दार्जिलिंग, असम समेत अन्य स्थानों की बुकिंग शुरू हो गई है। इसके अलावा राजस्थान समेत अन्य स्थानों की रेग्युलर बुकिंग चालू है।


दानह एवं दमण-दीव स्वास्थ्य विभाग ने नए निर्देश जारी किए
चीन के वुहान प्रांत के हुबेई शहर से निमोनिया के रूप मे शुरू हुआ कोवीड-19 का प्रकोप दिन प्रतिदिन विश्व के बाकी देशों को अपनी चपेट मे ले रहा है। चीन के अलावा विश्व के 58 देशों में इस बीमारी के रोगी पाए गए हैं। पूरे विश्व में अब तक 87137 रोगी मिले हैं, जिसमें से 2873 लोगों की इस बीमारी की वजह से मौत हो चुकी है। भारत में अब तक 5 पॉजिटिव रोगी मिले थे, जिनका स्वास्थ्य ठीक है। इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है। 



नए दिशा-निर्देेश
कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इन दिशा-निर्देश के अनुसार सभी भारतीयों को चीन, कोरिया, इटली, ईरान, जापान, वियतनाम, मलेशिया, हांगकांग, नेपाल, और सिंगापुर की गैर-आवश्यक यात्रा से परहेज करने की सलाह दी जाती है। 10 फरवरी 2020 के बाद से उपरोक्त देशों की यात्रा किए लोगों को भारत आने पर 14 दिनों के लिए अलग रखा जा सकता हैं। प्रदेश के यात्रियों को भी सलाह दी गई है जैसे की अपनी वापसी के बाद 14 दिनों के लिए घर में अलग रहें, अलग कमरे में सोएं, परिवार के अन्य सदस्यों के साथ संपर्क सीमित करें और आगंतुकों से बचें, खांसने और छींकने पर नाक और मुंह ढक लें, लक्षण आने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाए। 



स्वास्थ्य विभाग की तैयारी पूरी
इस संबंध में जानकारी देते हुए निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं दादरा नगर हवेली एवं दमण दीव डॉ. वीके दास ने बताया कि भारत सरकार की जारी दिशा-निर्देश के अनुसार विभाग की तैयारी पूर्ण हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा यात्रा सलाह पत्र के अनुसार सभी यात्रियों की जाँच की जा रही है। अभी तक प्रदेश मे किसी में इस बीमारी के लक्षण नहीं देखे गए। यह वायरस मुख्यत: रोगियों में गले में दर्द, सर्दी-जुकाम एवं तेज बुखार जैसे लक्षण पैदा करता है।


Popular posts
प्लास्टिक के दुष्प्रभाव से बचने समझना होगा वेस्ट मैनेजमेंट को
शादीशुदा BF संग भागी प्रेमिका, प्रेमी की पत्नी नही मानी तो प्रेमी पर दर्ज कराया RAPE का मामला
Image
कोतवाली पुलिस ने किए अंधे कत्ल के शेष दो आरोपी गिरफ्तार। 
Image
ग्वालियर। ग्वालियर में तीन मंजिला एक मकान में भीषण आग लगने से सात लोगों की जिंदा जलकर दर्दनाक मौत हो गई। जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से झुलसे लोगों का इलाज चल रहा है। फायर बिग्रेड आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहा है। घटनास्थल पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर सहित प्रशासन के आला अधिकारी और राजनेता भी पहुंच गए। घटना इंदरगंज थाने से महज 100 मीट की दूरी पर हुई। आग कैसे लगी इसकी जानकारी नहीं मिली है।  जानकारी के मुताबिक ग्वालियर के इंदरगंज चैराहे पर रोशनी घर मोड़ पर तीन मंजिला मकान में गोयल परिवार रहता है। हरिमोहन, जगमोहन, लल्ला तीनों भाई की फैमिली रहती है जिसमें कुल 16 लोग शामिल हैं। इस मकान में एक पेंट की दुकान भी है जिसमें आधी रात को भीषण आग लग गई। दुकान की ऊपरी मंजिल में बने मकान में परिवार आग की लपटों में फंस गया।  देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। मामले की जानकरी मिलते ही फायर ब्रिगेड अमला मौके पर पहुंच गया और आग में फंसे परिवार को बचाने लगा। लेकिन तब तक सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी थी। एडिशनल एसपी ने सात लोगों की मृत्यु की पुष्टि की है। सुबह मौके पर सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, चेम्बर अध्यक्ष विजय आदि भी पहुंचे। इस भीषण अग्निकांड की घटना में मृत लोगों के नाम इस प्रकार हैं - 1. आराध्या पुत्री सुमित गोयल उम्र 4 साल 2. आर्यन पुत्र साकेत गोयल उम्र 10 साल 3. शुभी पुत्री श्याम गोयल उम्र 13 साल 4. आरती पत्नी श्याम गोयल उम्र 37 साल 5. शकुंतला पत्नी जय किशन गोयल उम्र 60 साल 6. प्रियंका पत्नी साकेत गोयल उम्र 33 साल 7. मधु पत्नी हरिओम गोयल उम्र 55 साल 
Image
उत्कृष्ट विद्यालय मुरार में नन्हे नन्हे हाथों ने उकेरी रंगोलियां
Image