योजनाएं बनाने से पहले दिया जाएगा प्रशिक्षण

; भोपाल में बनेगा राष्ट्रीय स्तर का शहरी विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान



भोपाल / मध्य प्रदेश के समुचित एवं व्यवस्थित विकास के प्रशिक्षण के लिए राष्ट्रीय स्तर का शहरी विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान भोपाल में  बनाया जाएगा। इस संस्थान में नगर निगम से लेकर नगरीय और पंचायत तक के अधिकारियों और इंजीनियरों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकि भविष्य में योजनाबद्ध तरीके से प्रदेश का विकास हो सके। ये निर्णय गुरुवार को विधानसभा में मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में  हुई कैबिनेट की बैठक में लिया गया।


कैबिनेट की बैठक के बाद जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ की पहल पर राष्ट्रीय स्तर का शहरी विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान की रूप रेखा तैयार की गई है। पूरे प्रदेश तेजी से विकास हो रहा है। शहरों यहां तक की छोटे-छोटे गांवों की सीमाएं तेजी बढ़ रही हैं। बिना प्लानिंग के हो रहे विकास के चलते काफी दिक्कतें आती हैं। 


इसी बात को ध्यान में रखते हुए इस संस्थान की स्थापना की जा रही है। इस संस्थान में प्रदेश सहित पूरे देश से लोग प्रशिक्षण के लिए आएंगे। खासतौर इस संस्थान में नगर निगम से लेकर नगरीय निकाय और पंचायत के इंजीनियरों और अधिकारियों को प्रशिक्षण दिलाया जाएगा। विकास योजनाओं से जुड़े अन्य विभाग के लोग भी इस संस्थान में प्रशिक्षण ले सकेंगे। इस संस्थान में अर्बन प्लानिंग से जुड़े राष्ट्रीय स्तर के विशेषज्ञों को नियुक्त किया जाएगा। 


ये निर्णय भी हुए


लोकसभा और विधानसभाओं की सीटों में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षण 10 साल बढ़ाने संबंधी 126वें संविधान संशोधन विधेयक के अनुमोदन को पारित कर दिया गया है। अब इसे आज ही विधानसभा में रखा जाएगा। 


मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान 100 से बढ़ाकर 150 करोड़ रुपए कर दिया गया है। 


शैक्षणिक सत्र के मद्देनजर शिक्षकों के तबादलों पर प्रतिबंध रहेगा। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के तबादलों के मामले अब सीएम समन्वय में नहीं आएंगे, जिले के अंदर होने वाले तबादलों के लिए मंत्रियों को अधिकार दिया गया है।


भिंड गोली चालन की रिपोर्ट पर यह निर्णय लिया गया कि इसके परीक्षण के लिए एक मंत्रिमंडलीय समिति बनाई जाएगी।


राजस्व परिपत्र पुस्तिका में संशोधन करके पान की खेती करने वाले किसानों को 25 से 33 फीसदी फसल का नुकसान होने पर अब आर्थिक सहायता 30000 रुपए प्रति हैक्टेयर दी जाएगी। 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने पर 40000 रुपए प्रति हेक्टेयर की आर्थिक सहायता मिलेगी।


शहरी क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन के लिए 3600 रुपए की कार्य योजना को मंजूरी दी गई है। डोलोमाइट लाइमस्टोन सहित अन्य गौण खनिजों की रॉयल्टी में 50 प्रतिशत के करीब वृद्धि की गई है। नगर निकाय 400 करोड़ रुपए के ऋण प्राप्त कर सकेंगे। नगरीय निकायों के लिए सरकार 136 करोड़ रुपए का अनुदान देगी। 


सड़क विकास निगम एवं लोक निर्माण विभाग की 16 सड़क के ओएमटी मॉडल पर दी जाएंगी। इन सड़कों से कमर्शियल व्हीकल से टोल वसूला जाएगा।



Popular posts
प्लास्टिक के दुष्प्रभाव से बचने समझना होगा वेस्ट मैनेजमेंट को
शादीशुदा BF संग भागी प्रेमिका, प्रेमी की पत्नी नही मानी तो प्रेमी पर दर्ज कराया RAPE का मामला
Image
कोतवाली पुलिस ने किए अंधे कत्ल के शेष दो आरोपी गिरफ्तार। 
Image
ग्वालियर। ग्वालियर में तीन मंजिला एक मकान में भीषण आग लगने से सात लोगों की जिंदा जलकर दर्दनाक मौत हो गई। जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से झुलसे लोगों का इलाज चल रहा है। फायर बिग्रेड आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहा है। घटनास्थल पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर सहित प्रशासन के आला अधिकारी और राजनेता भी पहुंच गए। घटना इंदरगंज थाने से महज 100 मीट की दूरी पर हुई। आग कैसे लगी इसकी जानकारी नहीं मिली है।  जानकारी के मुताबिक ग्वालियर के इंदरगंज चैराहे पर रोशनी घर मोड़ पर तीन मंजिला मकान में गोयल परिवार रहता है। हरिमोहन, जगमोहन, लल्ला तीनों भाई की फैमिली रहती है जिसमें कुल 16 लोग शामिल हैं। इस मकान में एक पेंट की दुकान भी है जिसमें आधी रात को भीषण आग लग गई। दुकान की ऊपरी मंजिल में बने मकान में परिवार आग की लपटों में फंस गया।  देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। मामले की जानकरी मिलते ही फायर ब्रिगेड अमला मौके पर पहुंच गया और आग में फंसे परिवार को बचाने लगा। लेकिन तब तक सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी थी। एडिशनल एसपी ने सात लोगों की मृत्यु की पुष्टि की है। सुबह मौके पर सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, चेम्बर अध्यक्ष विजय आदि भी पहुंचे। इस भीषण अग्निकांड की घटना में मृत लोगों के नाम इस प्रकार हैं - 1. आराध्या पुत्री सुमित गोयल उम्र 4 साल 2. आर्यन पुत्र साकेत गोयल उम्र 10 साल 3. शुभी पुत्री श्याम गोयल उम्र 13 साल 4. आरती पत्नी श्याम गोयल उम्र 37 साल 5. शकुंतला पत्नी जय किशन गोयल उम्र 60 साल 6. प्रियंका पत्नी साकेत गोयल उम्र 33 साल 7. मधु पत्नी हरिओम गोयल उम्र 55 साल 
Image
उत्कृष्ट विद्यालय मुरार में नन्हे नन्हे हाथों ने उकेरी रंगोलियां
Image