ट्रेन से दंपति कर रहे थे गांजा तस्करी ,पुलिस ने माल सहित पकड़ा

ट्रेन से दंपति कर रहे थे गांजा तस्करी ,पुलिस ने माल सहित पकड़ा




नागपुर /  दंपति ट्रेन में गांजे की तस्करी करते पकड़े गए, उनके पास से 16 किलो से ज्यादा का गांजा बरामद किया गया। जिसकी कीमत 1 लाख 61 हजार रुपए से ज्यादा बताई गई। कार्रवाई मंडल सुरक्षा आयुक्त नागपुर के आशुतोष पांडे के मार्गदर्शन में आरपीएफ ने की। गांजा जब्त कर दंपति को आगे की कार्रवाई के लिए गोंदिया जीआरपी को सौंपा है।



ट्रेन नंबर 1821 पुरी-अजमेर एक्सप्रेस में आरपीएफ की टीम गुप्त निगरानी रख रही थी। दुर्ग से गोंदिया के बीच में एस-4 से एस-5 कोच में एक महिला और पुरुष को संदिग्ध अवस्था में बार-बार सामान की अदला-बदली करते देखा गया। उनकी हरकतें भी संदिग्ध थीं। ऐसे मे उन्हें हिरासत में लेते हुए पूछताछ की गई, जिसमें उन्होंने अपना नाम मलखान वल्द शुंभुद्याल प्रजापति (39) व शिवानी प्रजापति (30) निवासी सागर मध्यप्रदेश बताया। थैलियों के बारे में पूछताछ करने पर टालमटाेल जवाब दे रहे थे। ऐसे में जांच-पड़ताल की गई, जिसमें 9 पैकेट टेप से बांधे रखे मिले, खोलने पर उसमें गांजा मिला। कुल 16 किलो 184 ग्राम गांजा मिला, जिसकी कुल कीमत 1 लाख 61 हजार 840 रुपए बताई गई।


सट्टा अड्डे पर पुलिस का छापा, 6 लोग गिरफ्तार
गिट्टीखदान क्षेत्र में वेटरनरी चौक में चल रहे सट्टा पट्टी अड्डे पर पुलिस उपायुक्त विनीता साहू के विशेष दस्ते ने गुप्त सूचना मिलने पर छापामार कार्रवाई की। इस अड्डे से 6 सटोरियों को गिरफ्तार किया गया। यह सट्टा पट्टी अड्डा काफी चर्चित है। कुछ समय पहले ही इस अड्डे पर अपराध शाखा पुलिस ने कार्रवाई की थी। उसके बाद भी यह फिर से शुरू हो गया था। इस कार्रवाई गिट्टीखदान क्षेत्र में अवैध धंधे करने वाले आरोपियों में खलबली मच गई है।


पुलिस सूत्रों के अनुसार सेमिनरी हिल्स रोड पर वेटरनरी  चौक में सट्टा पट्टी अड्डे पर बुधवार की शाम करीब 4 बजे पुलिस उपायुक्त के विशेष दस्ते ने छापा मारा। इस अड्डे पर सट्टा पट्टी पर दांव लगाने वाले आरोपी राजेस उर्फ मुन्ना प्रेमलाल बल्लारे (45), तेजस कैलाश दवंडेवार (20), संतोष श्रीराम मेश्राम (35), लव सुखदेव मसराम (22), दीपक शंखलाल वर्मा (23), राहुल राज्जनलाल उमर (20) को पुलिस ने धरदबोचा। इन आरोपियों से करीब 1 लाख 32 हजार रुपए का माल जब्त किया गया है। विशेष दस्ते के पुलिस उपनिरीक्षक घुगे, एएसआई अजय गर्जे, नायब पुलिस सिपाही रेमंड, विजेंद्र, सिपाही राहुल, सैयद ने कार्रवाई में सहयोग किया।