कारोबारियों के समर्थन में अडी कांग्रेस प्रशासन ने दिया अल्टीमेटम

कारोबारियों के समर्थन में अडी कांग्रेस प्रशासन ने दिया अल्टीमेटम




मथुरा / फल सब्जी एवं अनाज मंडी का विवाद जारी है। इस विवाद ने अब राजनीतिक रंग लेना भी शुरू कर दिया है। एक तरफ आढतिया अपनी बात पर अडे हैं और टीनशेड को अतिक्रमण मानने को तैयार नहीं वहीं मडी समिति ने 286 अतिक्रमण चिन्हित कर मंडी समिति के आढतियो को मंगलवार तक का समय दिया है, इस बीच अगर वह अपना अतिक्रमण नहीं हटाते तो बुधवार को मंडी समिति प्रशासन कार्यवाही शुरू कर देगा।
दूसरी ओर इस विवाद को राजनीति रंग भी मिलने लगा है। इस में कांग्रेस सबसे आगे हैं। कांग्रेस ने आढतियो के समर्थन का एलान किया है। शनिवार को कांग्रेस के पूर्व विधायक एवं पूर्व नेता कांग्रेस विधान मंडल दल प्रदीप माथुर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल मंडी समिति में कारोबारियों को समर्थन देने पहुंचे। इससे पहले कांग्रेस नेता कु.नरेंद्र सिंह के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ता आढतियों के पक्ष की वकालत प्रशासनिक अधिकारियों के सामने करते रहे हैं। प्रदीप माथुर ने कहाकि मडी समिति प्रांगण में लाईसेस शुदा आढतियो, व्यापारियो को अतिक्रमण हटाने के नाम पर भाजपा कि योगी सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन उजाडने का तानाशाही रवैये से कार्य कर रहा है, जबकि यह फल सब्जी अनाज आढतिया लाईसेंस लेकर जीएसटी सहित सभी कर सरकार को नियमबद्ध तरीके से जमा करते हैं। व्यापारियों को अगर जिला प्रशासन ने अपनी हठधर्मिता से हटाया तो कांग्रेस पार्टी इनके समर्थन मे सडक पर उतर कर जनआंदोलन करेगी, कांग्रेस भाजपा सरकार के द्वारा व्यापारियों के किये जा रहे उत्पीडन की घोर निंदा करती है। अध्यक्ष महानगर कांग्रेस कमेटी पं उमेश शर्मा एड. ने कहाकि महानगर कांग्रेस कमेटी मंडी व्यापारियों के साथ मजबूत दीवार की तरह से खडी है। प्रमुखरुप से आबिद हुसैन, तौफीक, आरिफ, विनेश सनवाल वाल्मीकि, लियाकत कुरैशी,  दिनेश पाठक, विनोद शर्मा, महेश रावत, दीनदयाल, तौफीक कुरैशी,  चौ. ओमवीर सिह, श्याम चैधरी, प्रकाश शर्मा, बकको कुरैशी, हरवीर प्रधान, महिपाल चैधरी, गुडडू कुरैशी बकपुददीन, अजय शर्मा शाजिद,  सरफराज कुरैशी, मुनना कुरैशी, सूरजभान,  भोलाा सिह, लाखन सिह, प्रवीण सिह आदि प्रतिनिधिमंडल में सामिल थे।



Popular posts
प्लास्टिक के दुष्प्रभाव से बचने समझना होगा वेस्ट मैनेजमेंट को
शादीशुदा BF संग भागी प्रेमिका, प्रेमी की पत्नी नही मानी तो प्रेमी पर दर्ज कराया RAPE का मामला
Image
कोतवाली पुलिस ने किए अंधे कत्ल के शेष दो आरोपी गिरफ्तार। 
Image
ग्वालियर। ग्वालियर में तीन मंजिला एक मकान में भीषण आग लगने से सात लोगों की जिंदा जलकर दर्दनाक मौत हो गई। जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से झुलसे लोगों का इलाज चल रहा है। फायर बिग्रेड आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहा है। घटनास्थल पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर सहित प्रशासन के आला अधिकारी और राजनेता भी पहुंच गए। घटना इंदरगंज थाने से महज 100 मीट की दूरी पर हुई। आग कैसे लगी इसकी जानकारी नहीं मिली है।  जानकारी के मुताबिक ग्वालियर के इंदरगंज चैराहे पर रोशनी घर मोड़ पर तीन मंजिला मकान में गोयल परिवार रहता है। हरिमोहन, जगमोहन, लल्ला तीनों भाई की फैमिली रहती है जिसमें कुल 16 लोग शामिल हैं। इस मकान में एक पेंट की दुकान भी है जिसमें आधी रात को भीषण आग लग गई। दुकान की ऊपरी मंजिल में बने मकान में परिवार आग की लपटों में फंस गया।  देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। मामले की जानकरी मिलते ही फायर ब्रिगेड अमला मौके पर पहुंच गया और आग में फंसे परिवार को बचाने लगा। लेकिन तब तक सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी थी। एडिशनल एसपी ने सात लोगों की मृत्यु की पुष्टि की है। सुबह मौके पर सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, चेम्बर अध्यक्ष विजय आदि भी पहुंचे। इस भीषण अग्निकांड की घटना में मृत लोगों के नाम इस प्रकार हैं - 1. आराध्या पुत्री सुमित गोयल उम्र 4 साल 2. आर्यन पुत्र साकेत गोयल उम्र 10 साल 3. शुभी पुत्री श्याम गोयल उम्र 13 साल 4. आरती पत्नी श्याम गोयल उम्र 37 साल 5. शकुंतला पत्नी जय किशन गोयल उम्र 60 साल 6. प्रियंका पत्नी साकेत गोयल उम्र 33 साल 7. मधु पत्नी हरिओम गोयल उम्र 55 साल 
Image
उत्कृष्ट विद्यालय मुरार में नन्हे नन्हे हाथों ने उकेरी रंगोलियां
Image